Punjab News: पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक पर रिपोर्ट सौंपेगी पंजाब सरकार, केंद्र ने मांगा था जवाब

चंडीगढ़: पंजाब सरकार पीएम की सुरक्षा में चूक मामले को लेकर जल्द ही केंद्र सरकार को जवाब भेजने जा रही है। पिछले साल जनवरी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य का दौरा किया था। इसी दौरान उनकी सुरक्षा में चूक हो गई थी। जिसको लेकर पंजाब सरकार की काफी किरकिरी हुई थी। पंजाब सरकार के एक शीर्ष अधिकारी ने मंगलवार को इस बात की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जिस कार्रवाई पर विचार किया जा रहा है। वह सुप्रीम कोर्ट के जरिए गठित समिति के प्रस्तुत निष्कर्षों पर आधारित है। जिसने मोदी के दौरे के दौरान सुरक्षा में चूक की जांच की थी।

केंद्र ने हाल ही में इस मामले को लेकर राज्य को एक पत्र भेजा था। मुख्य सचिव वी के जंजुआ ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘हमें समिति (अदालत द्वारा गठित) की रिपोर्ट मिल गई है। जिसने सुरक्षा में चूक के लिए कुछ अधिकारियों को जिम्मेदार ठहराया है। हम जल्द ही इस संबंध में की गई कार्रवाई की रिपोर्ट (केंद्र को) भेजेंगे।’

यह सवाल किए जाने पर कि क्या एक पूर्व पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) सहित राज्य के नौ पुलिस अधिकारियों को कथित तौर पर रिपोर्ट में दोषारोपित किया गया है और क्या सभी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी? मुख्य सचिव ने कहा, ‘कानून के अनुसार जो भी कार्रवाई जरूरी होगी, वह की जाएगी।’ यह पूछे जाने पर कि क्या इन अधिकारियों के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया जाएगा? जंजुआ ने कहा, कानून के तहत जो भी कार्रवाई करनी होगी, की जाएगी।’ एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कार्रवाई शुरू करने से पहले फाइल मुख्यमंत्री के पास मंजूरी के लिए जाएगी।

एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि गलती करने वाले अधिकारियों की सजा को लेकर भी जवाब दिया। उन्होंने कहा कि वेतन वृद्धि रोकने के साथ ही प्रमोशन और सेवा में होने की स्थिति में आरोपियों को सस्पेंड भी किया सकता है। हालांकि, उन्होंने कहा कि सभी को अपना बचाव करने के लिए पक्ष रखने की अनुमति दी जाएगी।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि दोषी अधिकारियों की ओर से हुई चूक को रिपोर्ट में विस्तार से बताया गया है। पिछले साल पांच जनवरी को फिरोजपुर में प्रदर्शनकारियों के जरिए नाकेबंदी के कारण प्रधानमंत्री मोदी का काफिला एक फ्लाईओवर पर फंस गया था। जिसके बाद वह रैली सहित किसी भी कार्यक्रम में शामिल हुए बिना पंजाब से लौट आए थे।

पंजाब के वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा ने संवाददाताओं से कहा कि इस मामले में दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए चीमा ने यह भी कहा कि चरणजीत सिंह चन्नी के नेतृत्व वाली राज्य की तत्कालीन कांग्रेस सरकार प्रधानमंत्री की सुरक्षा सुनिश्चित करने में विफल रही थी। इस घटना को लेकर बीजेपी ने पंजाब की पिछली कांग्रेस सरकार पर भी निशाना साधा था। पिछले साल रिपोर्ट दिए जाने के बाद बीजेपी नेताओं ने चन्नी सरकार पर पीएम की सुरक्षा से खिलवाड़ करने का आरोप लगाया था।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.